MCQs on CHILD DEVELOPMENT(बाल विकास)

  • मानव बुद्धि एवं विकास की समझ शिक्षक……………… को योग्य बनाती है।
    (1) निष्पक्ष रूप से अपने शिक्षण-अभ्यास
    (2) शिक्षण के समय शिक्षार्थियों के संवेगों पर नियन्त्रण बनाए रखने
    (3) विविध शिक्षार्थियों
  • मानव विकास को क्षेत्रों में विभाजित किया जाता है, जो हैं
    (1) शारीरिक, आध्यात्मिक,संज्ञानात्मक और सामाजिक
    (2) शारीरिक, संज्ञानात्मक, संवेगात्मक, सामाजिक
    (3) संवेगात्मक,संज्ञानात्मक, आध्यात्मिक और सामाजिक-
    मनोवैज्ञानिक
    (4) मनोवैज्ञानिक, संज्ञानात्मक, संवेगात्मक और शारीरिक
  • विकास शुरू होता है
    (1) उत्तर-बाल्यावस्था से (2) प्रसवपूर्व अवस्था से
    (3) शैशवावस्था से (4) पूर्व- बाल्यावस्था से
  • बच्चों के संज्ञानात्मक विकास को सबसे अच्छे तरीके से कहाँ परिभाषित किया जा सकता है ?
    (1) खेल के मैदान में (2) विद्यालय एवं कक्षा में
    (3) आडिटोरियम में (4) गृह में
  • ‘बच्चे के उचित विकास को सुनिश्चित करने के लिए उसका स्वस्थ शारीरिक विकास एक महत्त्वपूर्ण पूर्व आवश्यकता है।’ यह कथन
    (1) गलत हो सकता है, क्योंकि विकास नितान्त व्यक्तिगत मामला है
    (2) सही है, क्योंकि विकास-क्रम में शारीरिक विकास सबसे पहले स्थान पर आता है
    (3) सही है, क्योंकि शारीरिक विकास, विकास के अन्य पक्षों के साथ अन्तःसम्बन्धित है
    (4) गलत है, क्योंकि शारीरिक विकास, विकास के अन्य पक्षों को किसी भी प्रकार से प्रभावित नहीं करता
  • अवधारणाओं का विकास मुख्य रूप से ……………… का हिस्सा है।
    (1) बौद्धिक विकास (2) शारीरिक विकास
    (3) सामाजिक विकास (4) संवेगात्मक विकास
  • वह कौन-सा स्थान है, जहाँ बच्चे के ‘संज्ञानात्मक’ विकास को सबसे बेहतर तरीके से परिभाषित किया जा सकता है ?
    (1) खेल का मैदान (2) विद्यालय एवं कक्षा पर्यावरण
    (3) सभागार (4) घर
  • निम्नलिखित में से किस अवस्था में बच्चे अपने समवयस्क समूह के सक्रिय सदस्य हो जाते हैं ?
    (1) किशोरावस्था (2) प्रौढ़ावस्था
    (3) पूर्व बाल्यावस्था (4) बाल्यावस्था
  • किस अवस्था में घनिष्ठ मित्रता की प्रवृत्ति पाई जाती है ?
    (1) किशोरावस्था में (2) बाल्यावस्था में
    (3) शैशवावस्था में (4) इनमें से कोई नहीं
  • किशोरों की सबसे नाजुक एवं संवेदनशील समस्या क्या होती है?
    (1) व्यवसाय सम्बन्धी समस्या (2) यौन सम्बन्धी समस्या
    (3) समायोजन सम्बन्धी समस्या (4) प्रश्नाभ्यास सम्बन्धी समस्या
  • किसके परिणामस्वरूप बालक अपने निरन्तर बदलते हुए वातावरण में ठीक प्रकार समायोजन करने में सक्षम हो पाता है ? सर्वाधिक उपयुक्त विकल्प का चयन करें।
    (1) संज्ञानात्मक विकास (2)शारीरिक विकास
    (3) भाषायी विकास (4) संवेगात्मक विकास
  • इनमें से कौन-सा बाल विकास का एक सिद्धान्त है ?
    (1) विकास परिपक्वन अनुभव के बीच अन्योन्यक्रिया की वजह से घटित होता है
    (2) विकास प्रत्येक बच्चे की गति का सही ढंग से अनुमान लगा सकता है
    (3) अनुभव विकास का एकमात्र निर्धारक है
    (4) विकास प्रबलन तथा दण्ड के द्वारा सुनिश्चित किया जाता है
  • शिक्षण का विकासात्मक परिपे्रक्ष्य शिक्षकों से यह माँग करता है कि वे
    (1) कठोर अनुशासन बनाए रखने वाले बनें क्योंकि बच्चे अकसर प्रयोग (जाँच) करते हैं
    (2) विकासात्मक कारकों के ज्ञान के अनुसार अनुदेशन युक्तियों करें
    (3) विभिन्न विकासात्मक अवस्था वाले बच्चों के साथ समान रूप से व्यवहार करें
    (4) इस प्रकार का अधिगम उपलब्ध कराएँ जिसका परिणाम केवल संज्ञानात्मक क्षेत्र के विकास में हो
  • एक अध्यापक/अध्यापिका ने पाया कि एक विद्यार्थी वर्ग बनाने में कठिनाई अनुभव कर रहा है। उसने अनुमान लगाया कि वह हीरे का चित्र बनाने में कठिनाई अनुभव करेगा। उसने निम्नलिखित में से किस सिद्धान्त पर आधारित होकर यह अनुमान लगाया ?
    (1) विकास निरन्तरीय होता रहता है
    (2) अलग-अलग लोगों के लिए विकास की प्रक्रिया भी अलग-अलग होती है
    (3) विकास एक व्यवस्थित क्रम में होने की प्रवृत्ति से सम्बद्ध है
    (4) विकास की प्रक्रिया एक उत्परिवर्तनीय प्रक्रिया है
  • निम्नलिखित में से कौन-सी बहुबुद्धि सिद्धान्त की आलोचना है ?
    (1) बहुबुद्धि केवल ‘प्रतिभाएँ’ हैं, जो पूर्ण रूप से बुद्धि में विद्यमान रहती हैं
    (2) बहुबुद्धि शिक्षार्थियों को अपने रुझान को खोजने में मदद उपलब्ध कराती है
    (3) यह व्यावहारिक बुद्धि पर आवश्यकता से अधिक बल देती है
    (4) यह आनुभविक साक्ष्यों को बिल्कुल भी समर्थन नहीं दे सकता
  • मानव बुद्धि एवं विकास की समझ शिक्षक……………… को योग्य बनाती है।
    (1) निष्पक्ष रूप से अपने शिक्षण-अभ्यास
    (2) शिक्षण के समय शिक्षार्थियों के संवेगों पर नियन्त्रण बनाए रखने
    (3) विविध शिक्षार्थियों के शिक्षण के बारे में स्पष्टता
    (4) शिक्षार्थियों को यह बताने कि वे अपने जीवन को कैसे सुधार सकते हैं ?
  • संकल्पनाओं की व्यवस्थित प्रस्तुति विकास के निम्नलिखित किन सिद्धान्तों के साथ सम्बन्धित हो सकती है ?
    (1) विद्यार्थी भिन्न दरों पर विकसित होते हैं
    (2) विकास सापेक्ष रूप से क्रमिक होता है
    (3) विकास के परिणामस्वरूप वृद्धि होती है
    (4) विकास विषमजातीयता से स्वायत्तता की ओर अग्रसर होता है
  • निम्नलिखित में से कौन-सा विकास का सिद्धान्त है ?
    (1) विकास की सभी प्रक्रियाएँ अन्तःसम्बन्धित नहीं हैं
    (2) सभी की विकास दर समान नहीं होती है
    (3) विकास हमेशा रेखीय होता है
    (4) यह निरन्तर चलने वाली प्रक्रिया नहीं है
  • बच्चे के विकास के सिद्धान्तों को समझना शिक्षक की सहायता करता है
    (1) शिक्षार्थी की आर्थिक पृष्ठभूमि को पहचानने में
    (2) शिक्षार्थियों को क्यों पढ़ाना चाहिए यह औचित्य स्थापित करने में
    (3) शिक्षार्थियों की भिन्न अधिगम-शैलियों को प्रभावी रूप से सम्बोधित करने में
    (4) शिक्षार्थी के सामाजिक स्तर को पहचानने में
  • ‘‘विकास कभी न समाप्त होने वाली प्रक्रिया है।’’-यह विचार किससे सम्बन्धित है ?
    (1) अन्तःसम्बन्ध का सिद्धान्त
    (2) निरन्तरता का सिद्धान्त
    (3) एकीकरण का सिद्धान्त
    (4) अन्तःक्रिया का सिद्धान्त
  • मानव विकास कुछ विशेष सिद्धान्तों पर आधारित है। निम्नलिखित में से कौन-सा मानव विकास का सिद्धान्त नहीं है?
    (1) आनुक्रमिकता (2) सामान्य से विशिष्ट
    (3) प्रतिवर्ती (4) निरन्तरता
  • निचली कक्षाओं में शिक्षण की खेल-पद्धति मूलरूप से आधारित है
    (1) शारीरिक शिक्षा कार्यक्रमों के सिद्धान्त पर
    (2) शिक्षण-पद्धतियों के सिद्धान्तों पर
    (3) विकास एवं वृद्धि के मनोवैज्ञानिक सिद्धान्तों पर
    (4) शिक्षण के समाजशास्त्रीय सिद्धान्तों पर
  • एक शिक्षक को अपने विद्यार्थियों की क्षमताओं को समझने का प्रयास करना चाहिए। निम्नलिखित में से कौन-सा क्षेत्र इस उद्देश्य के साथ सम्बद्ध है ?
    (1) शिक्षा-समाजशास्त्र (2) सामाजिक दर्शन
    (3) मीडिया-मनोविज्ञान (4) शिक्षा मनोविज्ञान
  • बाल विकास का कौन-सा सिद्धान्त यह बताता है कि शारीरिक विकास की दृष्टि से पिछडे़ बालक संवेगात्मक, सामाजिक एवं बौद्धिक विकास में भी उतने ही पीछे रह जाते हैं ?
    (1) परस्पर सम्बन्ध का सिद्धान्त
    (2) विकास क्रम की एकरूपता का सिद्धान्त
    (3) एकीकरण का सिद्धान्त
    (4) विकास की दिशा का सिद्धान्त
  • निम्नलिखित में से कौन बालक के विकास को प्रभावित करने वाला आन्तरिक कारक है ?
    ।. बुद्धि ठ. शारीरिक कारण ब्. आनुवंशिक गुण
    (1) केवल । (2) । एवं ठ
    (3) केवल ब् (4) ये सभी
  • बाल विकास के विभिन्न आयामों की जानकारी शिक्षकों के लिए क्यों आवश्यक है ?
    ।. बलक की समस्याओं का निदान करने के लिए
    ठ. बालक के लिए उपयुक्त शिक्षण विधि अपनाने के लिए
    ब्. बलक के लिए उपयुक्त शैक्षिक वातावरण के निर्माण के लिए
    (1) केवल । (2) केवल ठ
    (3) केवल ब् (4) ये सभी

1.(4), 2.(2), 3.(2), 4.(3), 5.(1), 6.(2), 7.(1), 8.(1), 9.(2), 10.(1), 11.(1), 12.(2), 13.(3), 14.(1), 15.(3), 16.(2), 17.(2),
18.(3), 19.(2), 20.(3), 21.(3), 22.(4), 23.(1), 24.(4), 25.(4)

Road to Eye-catching Landscape

The new common language will be more simple and regular than the existing European languages. It will be as simple as Occidental; in fact, it will be Occidental. To an English person, it will seem like simplified English, as a skeptical Cambridge friend of mine told me what Occidental is. The European languages are members of the same family.

Serious Problems with Cables in CIty

The new common language will be more simple and regular than the existing European languages. It will be as simple as Occidental; in fact, it will be Occidental. To an English person, it will seem like simplified English, as a skeptical Cambridge friend of mine told me what Occidental is. The European languages are members of the same family.

Montain and Winter Cold Weather

If several languages coalesce, the grammar of the resulting language is more simple and regular than that of the individual languages. The new common language will be more simple and regular than the existing European languages. It will be as simple as Occidental; in fact, it will be Occidental.